अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस संवत् २०७८ पर जानें वह योगाभ्यास जिसे राजा रामचन्द्र जी स्वयं करते थे।

अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस संवत् २०७८ पर जानें वह योगाभ्यास जिसे राजा रामचन्द्र जी स्वयं करते थे। राजा रामचन्द्र की जय। पूरी दुनिया प्राचीन सनातन विद्या योग से लाभ प्राप्त कर रही है। इसी क्रम में आज अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर उन प्राचीन महापुरषों के विषय में जानना चाहिए जिन्होंने अपने...

Continue reading

श्री संजय सिंह (देवरिया प्रभारी) का एक सार्थक पराक्रम

रामराज्य प्रशासन के देवरिया जनपद के प्रभारी श्री संजय सिंह द्वारा, सरकारी प्रशासन के निष्क्रियता को उत्तर देते हुए अपने क्षेत्र के कुकुरघाँटी स्थित चौराहे को निजी पुरुषार्थ से ठीक करा कर लोक कल्याण के मार्ग को प्रसस्त किया।

Continue reading

रामराज्य प्रसाद है प्रत्येक घर-परिवार का छोटा वैद्य

अयोध्यापुरी। दो वर्ष पूर्व जब दुनिया में कहीं कोरोना नहीं था और दुनिया लगभग स्वास्थ्य थी, तब रामराज्य प्रशासन ने रामराज्य प्रसाद के रूप में अमृतधारा को प्रजा में वितरित करना प्रारंभ किया था, यह रामराज्य का प्रसाद एक प्रकार से घर का छोटा वैद्य है। क्योंकि यह घर परिवार...

Continue reading

हनुमानजी का ऋण (प्रेरक लघु कथा)

रामजी लंका पर विजय प्राप्त करके आए तो, भगवान ने विभीषण जी, जामवंत जी, अंगद जी, सुग्रीव जी सब को अयोध्या से विदा किया। तो सब ने सोचा हनुमान जी को प्रभु बाद में बिदा करेंगे, लेकिन रामजी ने हनुमानजी को विदा ही नहीं किया,अब प्रजा बात बनाने लगी कि...

Continue reading

रामराज्य की नींव में कौन है?

श्रीसीता नवमी के शुभ अवसर पर। रामायण का एक छोटा सा वृतांत है,जिसे सुनकर आपको रामराज्य की नींव में किसकी शक्ति है …….आप जान सकेंगे– एक रात की बात हैं, माता कौशल्या जी को सोते में अपने महल की छत पर किसी के चलने की आहट सुनाई दी। नींद खुल...

Continue reading

क्या आप जानते हैं? सुदूर उड़ीसा के जगन्नाथपुरी धाम में आज भी ठाकुर जी को सर्वप्रथम मारवाड़ की करमा बाई का भोग लगता है!

सुदूर उड़ीसा के जगन्नाथपुरी धाम में आज भी ठाकुर जी को सर्वप्रथम मारवाड़ की करमा बाई का भोग लगता है।  मारवाड़ प्रांत का एक जिला है नागौर। नागौर जिले में एक छोटा सा शहर है ….. मकराणा   यूएन ने मकराणा के मार्बल को विश्व की ऐतिहासिक धरोहर घोषित किया...

Continue reading

अक्षय तृतीया को कैसे करें श्री रामराज्य कोष का पूजन

अयोध्यापुरी। प्रत्येक वर्ष की अक्षय तृतीया को श्री रामराज्य कोष का वार्षिक पूजन परंपरागत रूप से अयोध्यापुरी में होता रहा है। परन्तु कोरोना महामारी के कारण गत वर्ष यह पूजन रामराज्य प्रशासन द्वारा स्थानीय स्तर पर रामराज्य प्रशासक व राजपुरोहित द्वारा अपने-अपने स्थान पर ही करना पड़ा था। जिसके कारण...

Continue reading

कोरोना महामारी में रामराज्य प्रसाद बना रामबाण

अयोध्यापुरी। दो वर्ष पूर्व जब दुनिया में कहीं कोरोना नहीं था, तब रामराज्य प्रशासन ने रामराज्य प्रसाद के रूप में अमृतधारा को प्रजा में वितरित करना प्रारंभ किया था, यह रामराज्य का प्रसाद एक प्रकार से घर का वैद्य है। क्योंकि यह घर परिवार में प्रत्येक आयुवर्ग के लोगों को...

Continue reading

कोविड १९ ने स्वतंत्रता के मुख्य स्तंभ विधायिका, कार्यपालिका और न्यायपलिका के खोंखलेपन को स्पष्ट कर दिया है।

अयोध्यापुरी। भारतवर्ष में एक अति प्राचीन कहावत है कि सुख के सब साथी दुख में न कोई। इसी कहावत के अनुरूप आज परिस्थिति उत्पन्न हो गई है, भारत की पूरी जनता त्राहि-त्राहि कर रही है, परंतु कोई भी व्यवस्था उसे संतुष्टि के बोल नहीं बोल पा रही है। कोरोना के...

Continue reading

रामराज्य प्रशासन से जुड़कर रामराज्य का सञ्चालन करें- जय श्री राम

रामराज्य प्रशासन, अयोध्यापुरी की स्थापना राजा श्री रामचन्द्र की प्रेरणा से संवत् २०७१ में श्री भाष्कर सिंह के द्वारा की गई थी।  क्रमशः रामराज्य प्रशासन का कार्य उत्तरोत्तर आगे बढ़ते हुए, आज विभिन्न आयामों से युक्त होकर रामराज्य के सञ्चालन का कार्य कर रहा है।  रामराज्य प्रशासन राजा श्री रामचन्द्र...

Continue reading