जय श्री राम, रामराज्य प्रशासन के आधिकारिक वेबसाइट पर आपका स्वागत है, हमसे रामराज्य पर चर्चा करें ! Jai Shri Ram, Welcome in Ramrajya Prashasan Official website, Chat with us on Ramrajya
No comments yet

श्री रामलला विराजमान के पक्ष में सुप्रीम कोर्ट का फैसला आना पुनः सत्य की जीत को दर्शाता है।

राजा रामचंद्र की जय। श्री राम जन्मभूमि मंदिर को तोड़ने वाली असुर शक्तियां आज दैवी शक्ति के आगे पुनः पराजित हो चुकी हैं। भारतीय संस्कृति में यह अकाट्य वाक्य है, सत्य की हमेशा विजय होती है, सत्य परेशान हो सकता है परंतु पराजित नहीं।

राम राज्य प्रशासन का यह मत है की 12 * 3 योजन की पूरी की पूरी अयोध्या श्री राजा रामचंद्र जी की राजधानी है जो दुनिया की प्रथम राजधानी भी है। इस के इस स्वरुप को बनाए रखना राजा रामचंद्र के प्रजा की जिम्मेदारी है।

अयोध्या सनातन धर्म के शासकों की राजधानी है। श्री राम जन्मभूमि मंदिर के निर्माण का कंटक समाप्त होने के बाद एक नए उत्साह के साथ पूरे विश्व में रामराज्य के संचालन का प्रयास करने के लिए हमारे साथ सहयोग करें।

Post a comment

flower
Translate »